TMC-Congress Clash: बंगाल में फाड़े गए राहुल गांधी की न्याय यात्रा के पोस्टर, ममता बनर्जी ने उसी दिन रखी अपनी रैली

Rahul Gandhi Bengal Visit: पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है और इस बीच कूचबिहार में गुरुवार को होने वाली राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के पोस्टर फाड़े गए हैं. इसकते साथ ही इसी दिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी रैली रखी है.

Rahul Gandhi Nyaya Yatra Poster: लोकसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी भारत जोड़ो न्याय यात्रा पर निकले हैं. राहुल की यह यात्रा 14 जनवरी से मणिपुर से शुरू हुई है और मुंबई में खत्म होगी. इस दौरान यह यात्रा पश्चिम बंगाल से होकर गुजरेगी. न्याय यात्रा के लिए पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में पोस्टर लगाए गए थे, जिसे फाड़ने का मामला सामने आया है. हालांकि, अब तक इस बात की जानकारी सामने नहीं आई है कि इसे किसने फाड़ा है. बता दें कि राहुल गांधी की यात्रा गुरुवार (25 जनवरी) को पश्चिम बंगाल में प्रवेश करेगी, लेकिन यह कोलकाता नहीं जाएगी.

राहुल की यात्रा के दिन ही ममता बनर्जी की रैली

पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में गुरुवार को राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा होने वाली है. इसी दिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी रैली रखी है. इसको लेकर ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के लिए भी उन्हें अब तक न्योता नहीं भेजा गया है. ममता बनर्जी ने कहा, ‘हम इंडिया गठबंधन का हिस्सा हैं, लेकिन इसके बावजूद राहुल गांधी की यात्रा निकालने को लेकर हमसे बात नहीं की गई. पश्चिम बंगाल से जुड़े किसी भी मामले में हमारा उनसे कोई संपर्क नहीं हुआ है.’

ममता बनर्जी ने अकेले चुनाव लड़ने का किया ऐलान

सीएम ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है और चुनाव में अकेले उतरने का फैसला किया है. ममता बनर्जी ने कहा, ‘लोकसभा चुनाव के लिए सीट शेयरिंग पर उनका किसी से संपर्क नहीं हुआ है. बंगाल में किसी भी पार्टी में तालमेल नहीं है. इसलिए, लोकसभा चुनाव में टीएमसी अकेले उतरेगी. इंडिया गठबंधन ने मेरा कोई भी प्रस्ताव नहीं माना है. ऐसे में हमारी पार्टी अकेले ही चुनाव लड़ेगी.’

ममता बनर्जी ने 2 दिन पहले कांग्रेस को दिया था प्रस्ताव

इससे पहले ममता बनर्जी ने लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के सामने प्रस्ताव रखा था. उन्होंने कहा था कि कांग्रेस को कुछ क्षेत्रों को पूरी तरह से क्षेत्रिय दलों पर छोड़ देना चाहिए और उसे 300 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने पश्चिम बंगाल में टीएमसी को ज्यादा सीट पर चुनाव लड़ने की बात भी कही थी. उनका कहना था कि बंगाल में कोई भी पार्टी बीजेपी का उतना मुकाबला नहीं कर सकती, जितना टीएमसी कर सकती है. इसके साथ ही ममता बनर्जी ने माकपा पर विपक्षी एजेंडे को नियंत्रित करने का आरोप लगाया था.

Leave a Comment

Scroll to Top