Ram Mandir Darshan: आज से रामलला के दर्शन, तीन बार होगी आरती, कड़कड़ाती सर्दी में मंदिर के बाहर जुटी श्रद्धालुओं की भारी भीड़

Ram Mandir Darshan: रामलला अयोध्या में विराजमान हो चुके हैं और अब भक्तों की भारी भीड़ उनके दर्शन के लिए अयोध्या पहुंचने लगी है.

Ram Mandir: देश के लिए आज की सुबह खास है. हर रामभक्त के लिए खास है, क्योंकि आज वो पहली सुबह है, जब रामलला भव्य और दिव्य मंदिर में विराजमान हो चुके हैं. आज वो पहली सुबह है, जब रामभक्त मंदिर में जाकर अपने आराध्य का दर्शन-पूजन कर सकेंगे. रामलला के दर्शन के लिए इस वक्त मंदिर में भारी संख्या में भक्तों की भीड़ उमड़ी है. अयोध्या में इस वक्त तापमान 6 डिग्री है. मगर भीषण ठंड के बावजूद भक्तों के उत्साह में कोई कमी नहीं देखने को मिल रही है. हर कोई राम रंग में रंगा हुआ है.

सोमवार (22 जनवरी) को शुभ मुहूर्त में पूरे विधि विधान से रामलला की प्राण प्रतिष्ठा संपन्न होते ही रामभक्तों का बरसों का इंतजार खत्म हो गया और आज से हर आम श्रद्धालु रामलला के दर्शन कर सकेगा. रामलला के दर्शन सुबह 8 से रात 10 बजे तक होंगे. दर्शन का समय कुछ इस प्रकार है कि सुबह में लोगों को आठ बजे से लेकर दोपहर एक बजे तक रामलला के दर्शन का मौका मिलेगा. इसके बाद दोपहर तीन बजे से रात दस बजे तक लोग रामलला के दर्शन कर पाएंगे. 

क्या है आरती का समय? 

राम मंदिर दोपहर 12 बजे रामलला की भोग आरती होगी और 7.30 बजे संध्या आरती होती है. इसके बाद रामलला को 8.30 बजे अंतिम आरती करके शयन करवाया जाता है. आरती के लिए फ्री पास हासिल करने होंगे, जिसे ऑनलाइन और ऑफलाइन लिया जा सकता है. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की वेबसाइट के अनुसार, वैलिड सरकारी आईडी दिखाकर श्री राम जन्मभूमि स्थित कैंप कार्यालय से ऑफलाइन पास हासिल किया जा सकता है. ऑनलाइन पास के लिए srjbtkshetra.org वेबसाइट पर जाना होगा. 

51 इंच की मूर्ति की गई है स्थापित

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम 22 जनवरी को संपन्न हुआ. प्राण प्रतिष्ठा में 7000 से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया. राम मंदिर करोड़ों रामभक्तों की आस्था का प्रतीक है. मंदिर में भगवान राम की 51 इंच की मूर्ति स्थापित की गई है, जिसे मैसूर के शिल्पकार अरुण योगीराज में तैयार किया है. मूर्ति में भगवान विष्णु के सभी दस अवतारों, भगवान हनुमान जैसे हिंदू देवताओं और अन्य प्रमुख हिंदू धार्मिक प्रतीकों की नक्काशी भी शामिल है.  

रोशनी से सजे मंदिर

वहीं,  रामलला की मूर्ति की बहुप्रतीक्षित प्राण प्रतिष्ठा के बाद सोमवार शाम को राम मंदिर समेत अयोध्या के सभी मंदिरों को रोशनी से सजाया गया. आसमान पटाखों की चमक से दीपावली की तरह जगमगा उठा. देश के अन्य हिस्सों में भी लोगों ने आतिशबाजी के साथ इसका जश्न मनाया. राम मंदिर की एक दीवार पर रोशनी से भगवान राम और देवी सीता की तस्वीरें बनाई गईं तथा ‘राम’ नाम को मंदिर की मुख्य संरचना पर दर्शाया गया.

Leave a Comment

Scroll to Top