NIA Chargesheet: वॉशिंग मशीन के टाइमर, थर्मामीटर, सोडा पाउडर से IED बना रहे थे आतंकी, NIA चार्जशीट में आतंकियों की खौफनाक साजिश का ख़ुलासा

NIA Charge sheet ISIS: पुणे में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की फिराक में जुटे ISIS के गुर्गों से पता चला है कि ये विस्फोटक मंगाने के लिए सिरका, शरबत और रोज वॉटर जैसे कोड वर्ड का इस्तेमाल करते थे.

ISIS Module In Maharashtra: महाराष्ट्र के पुणे में गिरफ्तार आईएसआईएस के संदिग्ध आतंकियों के खिलाफ जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने इस मामले में चार्जशीट दाखिल कर दी है. इसमें कई चौंकाने वाले दावे किए गए हैं. पता चला है कि ये आतंकी महाराष्ट्र सहित देश के कई हिस्सों में आतंकी वारदातों को अंजाम देने के फिराक में थे.

इतना ही नहीं ये हाइली एजुकेटेड थे और तकनीकी तौर पर महारथी थे. सुरक्षा एजेंसियों को चकमा देने के लिए इन्होंने विस्फोटकों को कोड वर्ड नाम दे रखा था. सिरका, शर्बत रोज वॉटर जैसे शब्दों का इस्तेमाल कर ये विस्फोटक मंगाते थे.

आतंकी का था 31 लाख रुपये का पैकेज

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में गिरफ्तार एक आतंकी जुल्फिकार इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की मल्टीनेशनल कंपनी में सीनियर प्रोजेक्ट मैनेजर के तौर पर काम कर रहा था. उसका सालाना 31 लाख रुपये का पैकेज था. अदालत में दायर की गई चार्जशीट में एनआईए ने दावा किया है कि आतंकवादी बम बनाने के लिए जरूरी विस्फोटक मंगाने के लिए कोड वर्ड का इस्तेमाल कर रहे थे. इसमें सिरका का मतलब सलफ्यूरिक एसिड (Sulphuric acid H2so4), रोज वाटर का मतलब एसीटोन और शरबत का मतलब हाइड्रोजन पेरोक्साइड था.

कई राज्यों में हमले की थी योजना

चार्जशीट में एनआईए ने बताया है कि आतंकियों ने देश के कई राज्यों में हमले की योजना बनायी थी. इसके लिए महाराष्ट्र, गोवा, केरला और कर्नाटक में  ISIS के गुर्गों ने रेकी की थी. यह भी पता चला है कि इनमें से एक आतंकी ने लाखों रुपये कीमत की हिमालयन बाइक से कई राज्यों का भ्रमण किया था और संवेदनशील जगहों के वीडियो बनाए थे. इसी वीडियो के आधार पर हमले की साजिश रच रहे थे.

बनाया था ट्रेनिंग सेंटर, कोई इंजीनियर था तो कोई डिजाइनर

चार्जशीट के मुताबिक आतंकियों ने पुणे के जंगल में ट्रेनिंग सेंटर बनाया था. मुंबई और पुणे के कई इलाकों में किराए का मकान लेकर ये आतंकी अपना कुनबा बढ़ा रहे थे. आरोपी अकीफ नाचन ने फरवरी 2022 में मध्य प्रदेश के रतलाम में आतंकी ट्रेनिंग कैंप को अटेंड किया था. यह एक पोल्ट्री फार्म में आयोजित किया गया था.

गिरफ्तार आरोपी शाहनवाज माइनिंग इंजीनियर था जिसे विस्फोटकों की पूरी जानकारी थी. वहीं गिरफ्तार आरोपी कादिर पठान ग्राफिक्स डिजाइनर के तौर काम कर रहा था . वॉशिंग मशीन के टाइमर, थर्मामीटर, स्पीकर वायर, 12 वोल्ट के बल्ब, 9 वोल्ट के बैटरी, फिल्टर पेपर, माचिस, सोडा पावडर का इस्तेमाल कर ये आतंकी तो आईईडी बना रहे थे. इनके हैंडलर विदेशों में बैठे थे जो फंडिंग कर रहे थे.

Leave a Comment

Scroll to Top