Kerala Blast: ’20 मिनट के अंदर हो गए तीन विस्फोट’, प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया ब्लास्ट का आंखों देखा हाल, जानिए विस्फोट से जुड़ी हर जानकारी

Kerala Blast Live: केरल में सीरियल ब्लास्ट के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने सभी अस्पतालों को अलर्ट पर रहने को कहा है. इसके साथ ही सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों की छुट्टियां भी रद्द कर दी गईं हैं.

Kerala Blast News: केरल के एर्नाकुलम में कलामसेरी स्थित एक कन्वेंशन सेंटर में तीन ब्लास्ट के बाद पूरे देश में अलर्ट जारी किया गया है. मुंबई और पुणे को खास तौर पर अलर्ट किया गया है. इसके अलावा जहां-जहां यहूदी धर्मस्थल हैं, वहां हाई लेवल सिक्योरिटी बढ़ा दी है, लेकिन इन धमाकों के बाद राज्य सरकार, केंद्र सरकार और केंद्रीय जांच एजेंसियां एक्टिव हो गईं हैं.

धमाके के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने केरल के मुख्यमंत्री से बात की. वहीं, एनएसजी की NBDS टीम और एनआईए टीम केरल के लिए रवाना हो गई है. मामले की गंभीरता को देखते हुए शासन ने अस्पतालों को पूरी तरह से तैयार रहने को कहा है. स्वास्थ्य कर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गईं हैं.

जानिए कहां हुए धमाके

केरल के एर्नाकुलम में कलामसेरी स्थित एक कन्वेंशन सेंटर में यह ब्लास्ट हुआ है. प्रत्यदर्शियों के मुताबिक, कन्वेंशन सेंटर के हॉल में एक के बाद एक तीन ब्लास्ट हुए. बताया गया है कि जब धमाके हुए तब मौके पर 2000 से ज्यादा लोग मौजूद थे और सभी प्रार्थना कर रहे थे.

कब-कब हुआ ब्लास्ट

केरल पुलिस के मुताबिक, पुलिस को करीब 9 बजे एक कॉल मिली, जिसमें कहा गया कि एर्नाकुलम में कलामसेरी स्थित एक कन्वेंशन सेंटर में ब्लास्ट हुआ है. इसके 5 मिनट अंतराल के बाद वहां दूसरा ब्लास्ट हुआ. दो ब्लास्ट के बाद मौके पर अफरातफरी मच गई. विस्फोट से वहां आग भी लग गई. लोग खुद को बचाने के लिए भागने लगे. प्रत्यक्षदिर्शियों के अनुसार, 15-20 मिनट के अंतराल पर तीसरा ब्लास्ट भी हो गया.

धमाके में 1 की मौत, करीब 30 लोग घायल

इस धमाके में अब तक 1 की मौत हो चुकी है, जबकि 36 लोग घायल हुए हैं. घायलों में भी 7 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है और उनका इलाज अस्पताल में चल रहा है. बताया जा रहा है कि मरने वालों का आंकड़ा बढ़ भी सकता है.

कैसा चल रहा है बचाव कार्य

केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने धमाके के बाद सरकारी स्वास्थ्य कर्मचारियों की छुट्टी रद्द कर दी है. उन्होंने सभी से ड्यूटी पर आने का आग्रह किया है. वहीं, केरल के उद्योग मंत्री पी राजीव ने कहा कि विस्फोट स्थल की भी घेराबंदी कर पुलिस और अग्निशमन दल राहत एवं बचाव कार्य में जुट गई है. कई लोगों को रेस्क्यू किया जा चुका है.

घायलों को कहां-कहां किया गया भर्ती

जैसा कि हमने बताया कि इस हमले में 30 लोग से ज्यादा घायल हुए हैं और घायलों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में स्थानीय प्रशासन ने सभी घायलों को नजदीकी अस्पताल में जल्द से जल्द पहुंचाया है. सभी छोटे-बड़े अस्पतालों को अलर्ट पर रखा गया है. अगर जरूरत पड़ेगी तो और भी इंतजाम होंगे.

ब्लास्ट के बाद कैसा है माहौल?

केरल में हुए इस ब्लास्ट के बाद राज्य में ही नहीं, बल्कि देश के दूसरे हिस्सों में भी डर का माहौल है. खुफिया एजेंसी ने सभी राज्य सरकारों को अलर्ट मोड पर रहने को कहा है. वहीं, केरल में पुलिस प्रशासन भी एक्टिव है, लेकिन बल्लास्ट का डर लोगों के जहन में साफ दिख रहा है.

केरल में ब्लास्ट की वजह?

केल में ब्लास्ट की वजह क्या है, इसकी जांच चल रही है. फिलहाल डीजीपी केरल का कहना है कि हम सभी पहलुओं की जांच कर रहे हैं, हम जल्द यह पता लगाएंगे कि इसके लिए कौन जिम्मेदार है. प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि यह एक IED विस्फोट है. धमाके लिए इनसेंनडायरी (incendiary) डिवाइस का इस्तेमाल हुआ है. ये डिवाइस आईडी की तरह ही होता है. इससे एक छोटा धमाका होता है, जिससे आग लग जाती है.

क्या बताया प्रत्यक्षदर्शियों ने?

कन्वेंशन सेंटर के कमिटी मेंबर संजू ने समाचार एजेंसी एएनआई से ब्लास्ट को लेकर बात की. उन्होंने कहा, ‘वह एक हादसा था. हम सब बाहर भागे. हम बस इतना ही जानते हैं. और हम सब बाहर भागने लगे. सभी को सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया. अब हम बस इतना ही कह सकते हैं कि हम अधिकारियों से मिलने जा रहे हैं तभी पता चलेगा कि स्थिति क्या है.’  एक और प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दो धमाके हुए और आग लग गई. सबसे पहले एक बड़ा धमाका हुआ. दूसरा छोटा धमाका था. कन्वेंशन सेंटर में मौजूद एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि घटना के समय हॉल के अंदर 2,000 से अधिक लोग थे. वहां मौजूद लोगों ने बताया कि पहला धमाका प्रार्थना के दौरान हुआ. कन्वेंशन सेंटर के अंदर मौजूद एक बुजुर्ग महिला ने बताया, पहले धमाके के कुछ देर बाद ही हमने दो और धमाकों की आवाज सुनी

क्या कहा नेताओं ने?

केरल के विपक्ष के नेता और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष वीडी सतीसन ने कहा, ‘मुझे बताया गया कि दो धमाके हुए और आग लग गई. सबसे पहले एक बड़ा धमाका हुआ. दूसरा छोटा धमाका था. वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन से बात की. उन्होंने एनआईए और एनएसजी को मौके पर पहुंचकर घटना की जांच करने का निर्देश दिया है.

Leave a Comment

Scroll to Top