Home Loan: फेस्टिवल सीजन में होम लोन पर होगी बड़ी बचत, सरकार इन पांच योजनाओं के तहत देगी सब्सिडी 

फेस्टिवल सीजन के दौरान अगर आप होम लोन लेने जा रहे हैं तो सरकार की इन पांच योजनाओं को चेक कर लेना चाहिए, क्योंकि आपकी बड़ी बचत हो सकती है. 

Home Loan Interest Rates: फेस्टिवल सीजन के दौरान अगर आप भी अपने सपनों का घर खरीदना चाहते हैं तो इसे पूरा करने के लिए आप होम लोन की मदद ले सकते हैं. खासकर ऐसे समय में जब भारत सरकार लोन पर सब्सिडी देने के लिए कई स्कीम चला रही है. ये योजनाएं आपके लोन के भार को कम कर सकती है और आपके घर का सपना पूरा हो सकता है. 

भारत सरकार ने फेस्टिवल सीजन के दौरान होम लोन पर बचत करने में मदद के लिए कई योजनाएं और सब्सिडी शुरू की हैं. अगर आप होम लोन लेने जा रहे हैं तो आपको इन योजनाओं को चेक कर लेना चाहिए.प्रधानमंत्री आवास योजना प्रधानमंत्री आवास योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, कम इनकम ग्रुप और मिडिल इनकम ग्रुप के लोगों के लिए होम लोन पर ब्याज सब्सिडी प्रदान करती है. सब्सिडी इनकम ग्रुप के आधार पर अलग-अलग हो सकती है और लोन अमाउंट का 6.5 फीसदी तक हो सकती है. क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजनायह पीएमएवाई योजना का एक घटक है और ईडब्ल्यूएस, एलआईजी और एमआईजी के लिए होम लोन पर ब्याज सब्सिडी देता है. सब्सिडी अमाउंट लोन अमाउंट का 6.5 फीसदी तक हो सकती है और अधिकतम 20 वर्षों मौजूद है. 

स्टांप और रजिस्ट्रेशन चार्ज में छूटकुछ राज्य सरकारें त्योहारी सीजन के दौरान स्टांप और रजिस्ट्रेशन शुल्क में छूट की पेशकश करती हैं. इसका भी आप लाभ उठा सकते हैं. जीएसटी में कटौतीसरकार ने किफायती आवास के लिए कंस्ट्रक्शन संपत्तियों पर जीएसटी को 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी और अन्य संपत्तियों के लिए 18 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी कर दिया है. इस कटौती से संपत्ति की कुल लागत और होम लोन की राशि कम करने में मदद मिल सकती है. छोटे शहरी आवास के लिए ब्याज सब्सिडी योजनाभारत सरकार अगले पांच सालों में छोटे शहरी आवास के लिए सब्सिडी वाले लोन देने के लिए 600 अरब रुपये (7.2 अरब रुपये) खर्च करने पर विचार कर रही है. इस योजना के तहत 9 लाख रुपये तक की लोन अमाउंट पर 3 से 6.5 फीसदी तक सब्सिडी पेश कर रही है.  

Leave a Comment

Scroll to Top