‘हर हमले के बदले इजरायली बंधकों में से एक को देंगे सरेआम फांसी’, हमास की इजरायल को वॉर्निंग

इजरायली पीएम ने राष्ट्र के संबोधन में कहा कि इजरायल युद्ध के बीच खड़ा है, लेकिन हम युद्ध नहीं चाहते थे. हमने युद्ध की शुरुआत नहीं की है, लेकिन इसे खत्म हम करेंगे.

Israel Hamas War: हमास ने इजरायल को चेताया है कि अगर उसने गाजा पट्टी पर हवाई हमलों को बरकरार रखा तो उसे परिणाम भुगतने होंगे. हमास ने इजरायल से कहा है कि अगर वो गाजा के घरों पर औचक हमले जारी रखता है तो वह बंधक बनाए गए इजरायली नागरिकों को हर हमले के एवज में एक को सरे-आम फांसी पर लटका देगा. दरअसल इजरायल ने 3 लाख रिजर्व फोर्स को गाजा इलाके में तैनात कर दिया है. 

टाइम्स ऑफ इजरायल के मुताबिक, 1973 में यौम किमौर युद्ध के बाद पहली बार इजरायल ने इतनी बड़ी संख्या में रिजर्व फोर्स को तैनात किया है. इजरायली टीवी चैनलों के मुताबिक, हमास के हमलों में मरने वाले इजरायली नागरिकों की संख्या 900 हो गई है, जबकि दोनों पक्षों को मिला कर ये संख्या 1500 पार कर गई है. 

इजरायली पीएम ने बदला लेने की खाई कसम

हमास की ओर से हमला किए जाने और इजरायली नागरिकों के बंधक बनाए जाने को लेकर इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने एक भाषण दिया. उन्होंने भाषण के दौरान कसम खाई की वह हमास से बच्चों और बाकी मौतों का बदला लेंगे. उन्होंने कहा, “यह दुष्ट दुश्मन युद्ध चाहता था और उसे युद्ध मिलेगा.” इजरायली पीएम ने राष्ट्र के संबोधन में कहा, “इजरायल युद्ध के बीच खड़ा है, लेकिन हम युद्ध नहीं चाहते थे. युद्ध ने हमें बर्बर होने पर मजबूर किया है. हमने युद्ध की शुरूआत नहीं की है, लेकिन इसे खत्म हम करेंगे.”

उन्होंने कहा, “हम अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन का शुक्रिया अदा करते हैं. हम दुनिया भर के नेताओं का धन्यवाद करना चाहते हैं जो ऐसे बुरे दौर में हमारे साथ खड़ें है. इजरायल सिर्फ हमास से नहीं लड़ रहा है, बल्कि उन सभी देशों से लड़ रहा है जो बर्बरता को बढ़ावा देते हैं.”

Leave a Comment

Scroll to Top