यूपी से मजदूरी करने आया था कश्मीर, आतंकियों ने गोली मारी

Labourer Shot Dead in Kashmir: जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर आतंकियों ने प्रवासी मजदूर को निशाना बनाया है. मरने वाला युवक यूपी का बताया जा रहा है.

Migrant Labourer Shot Dead: कश्मीर में एक बार फिर आतंकियों ने प्रवासी मजदूर की गोली मारकर हत्या कर दी. यह मामला पुलवामा के एक गांव का है, जहां यूपी के रहने वाले मुकेश कुमार को आतंकियों ने निशाना बनाया. 

जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने सोमवार को कहा कि पुलिस चीजों को हल्के में नहीं ले सकती और सतर्क रहना होगा क्योंकि खतरे अभी भी बने हुए हैं. दरअसल, दिलबाग सिंह रविवार को श्रीनगर के ईदगाह इलाके में एक पुलिस अधिकारी पर हुए हमले का जिक्र कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हमारा एक अधिकारी कल क्रिकेट के मैदान में अन्य अधिकारियों के साथ खेल रहा था और उस पर हमला किया गया. उनका इलाज किया जा रहा है और वह ठीक हो रहे हैं. डीजीपी सिंह ने ऑपरेशन कैपेसिटी बिल्डिंग (ऑप कैप) के तहत 43 पुलिस स्टेशनों के लिए 160 अत्याधुनिक वाहनों को लॉन्च करने के बाद ये बातें कहीं.

‘पुलिस किसी चीज को हल्के में नहीं ले सकती’

डीजीपी ने कहा कि पुलिस किसी भी चीज को हल्के में नहीं ले सकती. उन्होंने कहा कि हमें सतर्क रहना होगा क्योंकि खतरा बना हुआ है. यह पूछे जाने पर कि वह किस संदेश के साथ पुलिस बल छोड़ रहे हैं, निवर्तमान डीजीपी ने कहा कि मैं बल नहीं छोड़ रहा हूं. एक पुलिसकर्मी हमेशा एक पुलिसकर्मी होता है. मैं 30 वर्षों से बल के साथ हूं और मैं बल के साथ ही बना रहूंगा. डीजीपी सिंह 31 अक्टूबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं और विशेष डीजी सीआईडी आरआर स्वैन उनकी जगह जम्मू-कश्मीर के डीजीपी होंगे. 

नए वाहनों के बारे में दिलबाग सिंह ने कहा कि आज 160 आधुनिक वाहन लॉन्च किए गए हैं और इन्हें ओपी कैप के तहत 43 पुलिस स्टेशनों में “पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में शून्य आतंक” के उद्देश्य से तैनात किया जाएगा. हाल की घुसपैठ की कोशिशों पर डीजीपी ने कहा कि सीमा ग्रिड मजबूत है लेकिन पड़ोसी देश आतंकवादियों को घुसपैठ कराना जारी रखता है. उन्होंने कहा कि हाल ही में, माछिल सेक्टर में पांच आतंकवादी मारे गए, जबकि कुपवाड़ा जिले में आज की मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया, जहां ऑपरेशन जारी है. 

Leave a Comment

Scroll to Top