ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन को किया बर्खास्त, फिलिस्तीन समर्थक प्रदर्शनकारियों के प्रति नरमी बरतने का लगाया था आरोप

Suella Braverman Sacked: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन को बर्खास्त कर दिया है. उनकी जगह जेम्स क्लेवरली को कमान दी गई है.

Britain: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने भारतीय मूल की गृह मंत्री सुएला ब्रेवरमैन बर्खास्त कर दिया. सुएला ने पुलिस पर फिलिस्तीन समर्थक प्रदर्शनकारियों के प्रति बहुत अधिक उदार होने का आरोप लगाया था. 

इजरायल-हमास जंग के बीच सुएला ब्रेवरमैन ने अखबार ‘द टाइम्स’ में लेख लिखा था. इस लेख में उन्होंने लंदन में होने वाले प्रदर्शनों से सख्ती से नहीं निपटने का आरोप लगाया था. इसी के बाद से उनके भविष्य को लेकर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं. 

सुनक पर कार्रवाई करने का दबाव

सुनक पर सुएला ब्रेवरमैन की टिप्पणियों को लेकर उनकी कंजर्वेटिव पार्टी के कई सदस्यों का दबाव था और साथ में उन्हें विपक्ष के हमलों का भी सामना करना पड़ रहा था. इस बीच सुनक ने उन्हें पद से हटा दिया है.

सरकार का कहना है कि ब्रेवरमैन ने सोमवार को कैबिनेट फेरबदल के तहत अपना पद छोड़ दिया. उनकी जगह भारतीय मूल के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने जेम्स क्लेवरली को गृह मंत्री नियुक्त किया है.

डाउनिंग स्ट्रीट ने क्या कहा?

ब्रेवरमैन ने कहा कि लंदन का पुलिस बल फिलिस्तीनी समर्थक भीड़ द्वारा कानून तोड़ने की अनदेखी कर रहा था. उन्होंने गाजा में संघर्ष विराम का आह्वान करने वाले प्रदर्शनकारियों को नफरत फैलाने वाले बताया था.

ब्रेवरमैन की लेख पर डाउनिंग स्ट्रीट ने कहा था कि उसे ब्रेवरमैन पर पूरा भरोसा है, लेकिन वे इस बात की जांच कर रहे हैं कि द टाइम्स में एक ओपिनियन लेख में उसकी टिप्पणियां बिना पीएम सुनक की सहमति के बिना कैसे प्रकाशित की गईं. इसके साथ ही सुनक के एक प्रवक्ता ने कहा था कि ओपिनियन लेख, पीएम के विचारों से मेल नहीं खाते हैं.

सुएला ब्रेवरमैन के बदले सुर

विवाद बढ़ने पर सुएला ब्रेवरमैन ने पुलिस की तारीफ की. उन्होंने कहा, ‘‘हमारे बहादुर पुलिस अधिकारी लंदन में प्रदर्शनकारियों की हिंसा और आक्रामकता तथा प्रदर्शनकारियों के विरोध में प्रदर्शन करने वालों से निपटने में अपनी पेशेवर क्षमता के लिए हर सभ्य नागरिक की ओर से धन्यवाद के पात्र हैं. अपने कर्तव्य निर्वहन के दौरान कई अधिकारियों के घायल होने से आक्रोश है.’’

Leave a Comment

Scroll to Top