दर्दनाक: ऑनलाइन गेम खेल रहे 7वीं के छात्र ने उठाया खौफनाक कदम, Instagram पर बताई वजह

जमशेदपुर. ऑनलाइन गेम लोगों खास कर के बच्चों के लिए कितना खतरनाक हो रहा है इसकी बानगी झारखंड में देखने को मिली है. यहां गेम खेलने के बाद सातवीं के छात्र ने फांसी लगाकर अपनी जान दे गी. घटना जमशेदपुर की है जहां बेल्डीह स्कूल के सातवीं कक्षा के छात्र ने ये खौफनाक कदम उठाया और ऑनलाइन गेम के चक्कर में फांसी तक लगा दी.मृतक छात्र की नानी जब अपने नाती के कमरे की ओर गई और दरवाजा खटखटाने लगे तो अंदर से जवाब नहीं आया. इसके बाद किशोर के माता-पिता भी पहुंचे और दरवाजा खटखटा़या. गेट नहीं खुलने पर किसी तरह से दरवाजा खोला गया तो सभी सकते में रह गए. पुत्र शौर्य प्रताप सिंह फांसी पर लटका हुआ था. आनन-फानन में उसे फंदे से उतारकर देर रात को ही टीएमएच ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

चार स्टेप कर चुका था क्लियर

घटना से दस घंटा पहले इस छात्र ने इंस्टाग्राम पर ऑनलाइन गेम के चार स्टेप पोस्ट किये थे. चौथे स्टेप यानि फाइनल स्टेप के बाद जब उसका हाथ में कटा हुआ खून किसी दूसरे सदस्य को दिखाई दिया. जैसे ही उस सदस्य ने खून दिखने की बात की पुष्टि की, उसके बाद इस 13 वर्षीय छात्र ने अपने रूम में ही फांसी लगा ली. जानकारी के अनुसार मृतक छात्र अटैक ऑन टाइटन की श्रृंखला को अप्रैल माह से देख रहा था. अटैक ऑन टाइटन एक ऑनलाइन गेम की तरह ही है.

इंस्टाग्राम पोस्ट से हरकत में आई पुलिस

मृतक छात्र काशीडीह का रहने वाला था तथा बेल्डीह चर्च स्कूल के सातवीं कक्षा का छात्र था. इंस्टाग्राम पोस्ट के बाद पुलिस भी हरकत में आ गई. इस छात्र के एक फॉलोअर छात्रा को भी पुलिस खोज रही है, जिसने दो स्टेप के बाद अपने आप को असफल बताया था. उसके इस पोस्ट में डीबीएमएस कदमा स्कूल के एक छात्र का प्रमाण पत्र भी मिला है, हालांकि साकची पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है, पुलिस ने दावा किया है यह ऑनलाइन गेम से जुड़ा मामला है.घटना के बाद पिता रविकांत सिंह और नानी चंद्र रेखा देवी अपने बच्चे की मौत पर न्याय की गुहार लगा रहे हैं. घर पर जिस तरह वीडीयो गेम मे उनकी बच्चें की ‌मौत हो गयी है, वो ऩहीं चाहते हैं कि किसी और बच्चें की मौत हो. इस जानलेवा और खतरनाक खेल से बच्चों को दूर रहने की सलाह दे रहे हैं.

क्या है अटैक ऑन टाइटन

अटैक ऑन टाइटन एक जापानी मंगा और एनीमि श्रृंखला है जिसमें तीव्र और हिंसक खेल शामिल हैं. यह हिंसा के ग्राफिक चित्रण के लिए जाना जाता है, जिसमें मनुष्यों को निगलने वाले विशाल मानव जैसे प्राणियों का चित्रण भी शामिल है. कहानी युद्ध, हानि और मानवीय स्थिति जैसे अंधेरे और परिपक्व विषयों की भी पड़ताल करती है.

Leave a Comment

Scroll to Top