डबल लाइन रेल सुरंग, 255 KM पाइपलाइन… बुलंदशहर से 20 हजार करोड़ की देंगे सौगात पीएम मोदी

PM Narendra Modi Bulandshahar Visit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस दौरे के दौरान दोनों ही जगहों पर कई डेवलपमेंट प्रोजेक्ट का उद्घाटन करेंगे. इसके अलावा पीएम लोगों को भी संबोधित करेंगे.

PM Narendra Modi in Bulandshahar: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी गुरुवार (25 जनवरी) को उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर और राजस्थान के जयपुर जाएंगे. पीएम इस दौरान कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे. वह इस दौरान जनसभाओं को भी संबोधित करेंगे.

जानकारी के मुताबिक, दोपहर करीब 1:45 बजे प्रधानमंत्री बुलंदशहर में कार्यक्रम में शामिल होंगे. इस दौरान वह 19,100 करोड़ रुपये से अधिक की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे जिसमें रेल, सड़क, तेल व गैस और शहरी विकास एवं आवास जैसे कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट हैं.

रेल से रोड तक कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट

बुलंदशहर में कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (डीएफसी) पर न्यू खुर्जा-न्यू रेवाड़ी के बीच 173 किलोमीटर लंबी डबल लाइन, मथुरा-पलवल सेक्शन और चिपियाना बुजुर्ग-दादरी सेक्शन को जोड़ने वाली चौथी लाइन, अलीगढ़ से भदवास चार लेन वाला वर्क पैकेज-1 (एनएच-34 के अलीगढ-कानपुर खंड का हिस्सा), एनएच-709ए की चौड़ाई बढ़ाने, एनएच-709एडी पैकेज-II के शामली-मुजफ्फरनगर सेक्शन को चार लेन करने व अन्य रोड प्रोजेक्ट का उद्घाटन करेंगे.

इनका भी उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री इस दौरान इंडियन ऑयल की टूंडला-गवारिया पाइपलाइन का भी उद्घाटन करेंगे. करीब 700 करोड़ रुपये की लागत से बना यह 255 किलोमीटर लंबा पाइपलाइन प्रोजेक्ट तय समय से काफी पहले पूरा हो गया है. पीएम ग्रेटर नोएडा में 747 एकड़ में फैले इंटीग्रेटिड इंडस्ट्रियल टाउनशिप  प्रोजेक्ट का भी उद्घाटन करेंगे. 1,714 करोड़ रुपये की लागत वाला यह प्रोजेक्ट दक्षिण में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे और पूर्व में दिल्ली-हावड़ा ब्रॉड गेज रेलवे लाइन के साथ लगा है. इसके अलावा पीएम करीब 460 करोड़ रुपये की लागत से बने सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी), मथुरा सीवरेज योजना, मुरादाबाद (रामगंगा) सीवरेज प्रणाली और एसटीपी कार्यों का भी उद्घाटन करेंगे. वहीं, इस दौरे को लेकर यूपी बीजेपी अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी ने कहा कि, “पीएम मोदी का आज कुछ विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे. इसके बाद पीएम मोदी सार्वजनिक जनसभा को संबोधित करेंगे.”

किस प्रोजेक्ट की क्या है अहमियत?

नया डीएफसी सेक्शन काफी महत्वपूर्ण है. यह पश्चिमी और पूर्वी डीएफसी को जोड़ता है. यह सेक्शन इसके अलावा खास इंजीनियरिंग उपलब्धि के लिए भी जाना जाता है. इसमें ‘ऊंचाई पर इलेक्ट्रिक वर्क के साथ एक किमी लंबी डबल लाइन रेल सुरंग भी है जो दुनिया में अपनी तरह की पहली सुरंग है. इस सुरंग को डबल-स्टैक कंटेनर ट्रेनों को निर्बाध रूप से संचालित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है. यह नया डीएफसी सेक्शन डीएफसी ट्रैक पर मालगाड़ियों के डायवर्जन के चलते यात्री ट्रेनों के संचालन को बेहतर बनाने में मदद करेगा.

मथुरा-पलवल सेक्शन और चिपियाना बुजुर्ग-दादरी सेक्शन से दिल्ली की दक्षिणी पश्चिमी और पूर्वी भारत तक रेल कनेक्टिविटी में सुधार आएगा. इंडियन ऑयल की टूंडला-गवारिया पाइपलाइन से मथुरा और टूंडला में पंपिंग सुविधाओं और टूंडला, लखनऊ और कानपुर में डिलीवरी सुविधाओं के साथ बरौनी-कानपुर पाइपलाइन के टूंडला से गवारिया टी-पॉइंट तक पेट्रोलियम उत्पादों के ट्रांसपोर्टेशन में काफी राहत मिलेगी.

सीवेज ट्रीटमेंट प्रोजेक्ट से क्या होगा फायदा?

मथुरा सीवरेज योजना में मसानी में 30 एमएलडी एसटीपी का निर्माण, ट्रांस यमुना में मौजूदा 30 एमएलडी का और मसानी में 6.8 एमएलडी एसटीपी को फिर से बनाना और 20 एमएलडी टीटीआरओ प्लांट का निर्माण है. मुरादाबाद (रामगंगा) सीवरेज प्रणाली और एसटीपी वर्क प्रोजेक्ट से मुरादाबाद में रामगंगा नदी को प्रदूषण से बचाने पर काम किया जाएगा.

जयपुर में फ्रांस के राष्ट्रपति से मुलाकात

प्रधानमंत्री शाम करीब साढ़े पांच बजे जयपुर में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों का स्वागत करेंगे. प्रधानमंत्री राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन के साथ शहर में जंतर मंतर और हवा महल सहित सांस्कृतिक और ऐतिहासिक महत्व के विभिन्न जगहों का दौरा करेंगे.

Leave a Comment

Scroll to Top