इजराइल में नेतन्याहू के समर्थन में आया विपक्ष, हमास के हमले के बाद भुलाए मतभेद, बन सकती है आपातकालीन एकता सरकार!

Israel Gaza Attack: प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की ​विपक्षी नेता यायर लापिड और बेनी गैंट्ज के साथ मीटिंग हुई. विपक्ष के नेताओं ने नेतन्याहू की सरकार में शामिल होने की संभावना पर चर्चा की है. 

Israel-Palestine Conflict: चरमपंथी संगठन हमास और इजराइल के बीच छिड़ी जंग अब और तेज हो गई हैं. दोनों तरफ से जोरदार हमले किए जा रहे हैं. इस संघर्ष के बीच इजराइल के शीर्ष नेताओं ने हमास चरमपंथियों के अप्रत्याशित हमले के बाद पैदा हुई जटिल स्थितियों से निपटने के लिए आपसी मतभेदों को भुलाकर देश में एक आपातकालीन राष्ट्रीय एकता सरकार बनाने की संभावना पर चर्चा शुरू की है.  

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, इजराइल के दैनिक समाचारपत्र हारेत्ज की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) की ​विपक्षी नेता यायर लापिड और बेनी गैंट्ज के साथ मीटिंग हुई. विपक्ष के नेताओं ने नेतन्याहू की सरकार में शामिल होने की संभावना पर चर्चा की है. 

दोनों विपक्षी नेताओं ने सरकार में शामिल होने को लेकर अपनी इच्छा जाहिर की है, लेकिन लापिड ने दक्षिणपंथी नेताओं और मंत्रियों के अलावा बेजेलल स्मोट्रिच और इटमार बेन-ग्विर को हटाने की मांग की है. बेनी गैंट्ज सरकार में शामिल होने को लेकर सहमत हो गए हैं. 

1967 के युद्ध के दौरान भी हुआ था कुछ ऐसा 
अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, नेतन्याहू ने 1967 का युद्ध याद करते हुए तत्कालीन प्रधानमंत्री लेवी एशकोल की सरकार में शामिल होने के लिकुड नेता मेनकेम बेगिन का उदाहरण भी दिया. नेतन्याहू ने कहा कि जब वह सुरक्षा बैठक के लिए उनसे मिले थे तो उन्होंने (पीएम एशकोल) दोनों नेताओं को आपातकालीन एकता सरकार में शामिल होने की पेशकश की थी.  

नेतन्याहू से पहले लापिड ही थे इजराइल के प्रधानमंत्री
विपक्षी नेता लापिड ने हालांकि इन दावों का खंडन करते हुए कहा कि उन्होंने ही नेतन्याहू के साथ एक मुलाकात के बाद एकता सरकार बनाने का विकल्प पेश किया. पिछले साल दिसंबर में नेतन्याहू के सत्ता में लौटने से पहले लापिड ही देश के प्रधानमंत्री थे. 

पूर्व रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज ने कहा कि वह सुरक्षा स्थिति पर केंद्रित सरकार में शामिल होने पर सकारात्मक रूप से विचार कर रहे हैं. उन्होंने अतीत में इजराइल रक्षा बलों (आईडीएफ) के प्रमुख के रूप में भी काम किया है. 

‘आपातकालीन एकता सरकार बनाने पर जताई सहमति’
समाचारपत्र की रिपोर्ट के मुताबिक, यायर लापिड ने बैठक के दौरान नेतन्याहू से कहा, ‘‘इस आपातकालीन स्थिति के दौरान, मैं सभी असहमतियों को किनारे रखकर एक पेशेवर, सीमित आपातकालीन एकता सरकार बनाने को तैयार हूं ताकि हम जिस कठिन, जटिल और लंबे अभियान का सामना कर रहे हैं उसका प्रबंधन कर सकें.’’ 

Leave a Comment

Scroll to Top